Traffictail

World Best Business Opportunity in Network Marketing
laminate brands in India
IT Companies in Madurai

विजिलेंस की टीम ने एआरटीओ ऑफिस के प्रधान सहायक को 2200 की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथ किया गिरफ्तार।

विजिलेंस की टीम ने एआरटीओ ऑफिस के प्रधान सहायक को 2200 की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथ किया गिरफ्तार।

 

रामनगर ( नैनीताल )– उत्तराखंड के सरकारी विभागीं में रिश्वतखोर भ्रष्टाचारियों के खिलाफ विजिलेंस का प्रहार लगातार जारी है विजिलेंस की टीम ने शुक्रवार को रामनगर के आरटीओ ऑफिस में बड़ी कार्रवाई की। यहां विजिलेंस की टीम ने एआरटीओ ऑफिस के प्रधान सहायक को 2200 की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथ गिरफ्तार कर लिया।

आरोप है कि प्रधान सहायक के पद पर कार्यरत ललित मोहन आर्या एक ई रिक्शा के रजिस्ट्रेशन के बदले रिश्वत की मांग कर रहा था। ‌ जिसकी शिकायत ई रिक्शा मालिक की तरफ से विजिलेंस में की गई। ‌ इसके बाद विजिलेंस ने पूरे मामले की जांच की। विजिलेंस की गुप्त जांच में शिकायत ठीक पाई गई। इसके बाद विजिलेंस की टीम ने शनिवार को एआरटीओ दफ्तर में छापेमारी की। ‌ जिसमें आरोपी कर्मचारियों को रिश्वत लेते हुए रंगे हाथ गिरफ्तार हो गया।

यह ख़बर भी पढ़िये।????????????????

हल्द्वानी। भ्रष्टाचार पर फिर हुआ वार विजिलेंस ने पीआरडी कार्यालय के प्रशासनिक अधिकारी को 10000 रूपये रिश्वत लेते हुए रंगे हाथ किया  गिरफ्तार।

विजिलेंस की तरफ से जारी प्रेस नोट में बताया गया है कि शिकायतकर्ता रिश्वत नहीं देना चाहता था, तथा भ्रष्ट सरकारी कर्मचारी के खिलाफ कानूनी कार्यवाही चाहता था। उक्त शिकायत पर सतर्कता अधिष्ठान सैक्टर हल्द्वानी द्वारा गोपनीय जाँच किये जाने पर प्रथम दृष्टया सही पाये जाने पर तत्काल ट्रैप टीम का गठन किया गया, जिनके द्वारा नियमानुसार कार्यवाही करते हुए आज दिनाक 22.12.2023 को अभियुक्त ललित मोहन आर्या, प्रशासनिक अधिकारी, एआरटीओ कार्यालय रामनगर को शिकायतकर्ता से रू. 2200 रिश्वत ग्रहण करते हुए रंगेहाथ गिरफ्तार किया गया।

यह ख़बर भी पढ़िये।????????????????

नानकमत्ता-भ्रष्टाचार पर वार,विजिलेंस टीम ने रिश्वत लेते रंगे हाथ पकड़ा पटवारी, तहसील कर्मियों में मची हड़कंप

अभियुक्त से पूछताछ जारी है, उक्त प्रकरण में भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम के अन्तर्गत प्रकरण दर्ज कर अग्रिम अनुसंधान किया जायेगा। निदेशक सतर्कता महोदय द्वारा ट्रैप टीम को नकद पुरुस्कार की घोषणा की गयी ।

नोट: अगर आप से भी कोई सरकारी अधिकारी या चुनाव हुआ जनप्रतिनिधि किसी काम के बदले रिश्वत मांगे तो आप तुरंत शिकायत करें। विजिलेंस का टोल-फ्री हैल्पलाईन न0 1064 एवं Whatsapp हैल्पलाईन नं. 9456592300 चौबीस घंटे आपकी मदद के लिए खुला रहता है। ‌

यह ख़बर भी पढ़िये।????????????????

खटीमा-अजब गजब???????? जिसकी लावारिस लाश को शिनाख्त करके परिजनों ने किया था अंतिम संस्कार,पांच दिन बाद उसने वीडियो कॉल कर बताया- में अभी जिंदा हूं–प्रकरण पूरे क्षेत्र में बना चर्चा का विषय।

uttarakhandlive24
Author: uttarakhandlive24

Harrish H Mehraa

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

[democracy id="1"]