Traffictail

World Best Business Opportunity in Network Marketing
laminate brands in India
IT Companies in Madurai

एस एस बी में नौकरी दिलाने के नाम पर ठगे सात लाख रुपये,महिला की तहरीर पर पुलिस ने दो युवकों के खिलाफ दर्ज किया मुक़दमा।

एस एस बी में नौकरी दिलाने के नाम पर ठगे सात लाख रुपये,महिला की तहरीर पर पुलिस ने दो युवकों के खिलाफ दर्ज किया मुक़दमा।

 

खटीमा। एक महिला ने पुत्र को एसएसबी में नौकरी लगाने के मामले सात लाख रूपये की धोखाधड़ी करने का आरोप लगाते हुए दो लोगों के खिलाफ धोखाधड़ी समेत विभिन्न धाराओं में मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी।

ग्राम बानूसा निवासी देवकी देवी पत्नी नरेंद्र सिंह ने पुलिस को दी तहरीर में कहा कि उसके पुत्र की मित्रता खेतलसण्डा मुस्ताजर निवासी योगेन्द्र दिगारी पुत्र विक्रम सिंह दिगारी के साथ थी। पुत्र का योगेन्द्र के घर आना-जाना रहता था। एक दिन योगेन्द्र के पिता विक्रम सिंह दिगारी ने प्रार्थिनी के पुत्र से कहा कि एक मेरा खास अपना आदमी है जो बेरोजगार लोगों को सरकारी नौकरी दिलाता है जिसका नाम पंकज सामन्त पुत्र त्रिलोक सिंह सामन्त निवासी प्लाट नं0 24 जी/एफ. केएन नं0 45/25/2 गंगली बिहार एक्रटेन बाप्रोला बापरोला पश्चिम दिल्ली नौकरी दिलाने का सात लाख रूपये लेता है।

यह ख़बर भी पढ़िये।????????????????

खटीमा-अजब गजब???????? जिसकी लावारिस लाश को शिनाख्त करके परिजनों ने किया था अंतिम संस्कार,पांच दिन बाद उसने वीडियो कॉल कर बताया- में अभी जिंदा हूं–प्रकरण पूरे क्षेत्र में बना चर्चा का विषय।

 

इस समय देहरादून में रहता है। प्रार्थिनी के पुत्र अजय ने अपने पिता को पूरी बात बतायी उसके पश्चात प्रार्थिनी के पति और विक्रम सिंह दिगारी की फोन पर बात हुई, विपक्षी विक्रम सिंह दिगारी ने प्रार्थिनी के पति को अपने घर बुलाया और बताया कि मेरी पुत्री माधुरी दिगारी भी देहरादून पंकज के साथ रहती है और पुलिस की तैयारी कर रही है उसकी नौकरी लगने वाली है।

यह ख़बर भी पढ़िये।????????????????

खटीमा से लापता हुई किशोरी को युवक के साथ उज्जैन में किया बरामद, आरोपी युवक के खिलाफ दुष्कर्म व पोक्सो की धारा में मुकदमा दर्ज कर किया गिरफ्तार।

विपक्षी ने कहा कि पंकज ने बहुत लोगों को सरकारी नौकरी लगवायी है। उसे और उसके पति ने पुत्र को एसएसबी में नौकरी लगाने के एवज में सात लाख रूपये दिए। उसके बाद भी पंकज ने एक लाख रूपये की मांग की तो उसे शक हुआ। नौकरी का झांसा देकर विक्रम सिंह दिगारी, पंकज सामन्त के साथ मिलकर उसे और उसके पति को गुमराह किया। पुलिस ने इस मामले में पंकज सामंत व विक्रम सिंह दिगारी के खिलाफ धारा 420 व 506 आईपीसी के तहत रिपोर्ट दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

यह ख़बर भी पढ़िये।????????????????

उपमहानिरीक्षक कुमाँऊ ने इस कोतवाल को तत्काल प्रभाव से किया निलम्बित पुलिस महकमें में मचा हड़कंप।

uttarakhandlive24
Author: uttarakhandlive24

Harrish H Mehraa

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

[democracy id="1"]